Category Archives: Uncategorized

ख़राब

Advertisements

Posted in Uncategorized | 1 Comment

रसद

मेरे यार ख्वाबों और तस्वीरों की कोई उम्र कहाँ होती हैं, तारीख की तवारीख़ में वो तो हररोज जवाँ होती है मिटती नहीं मोहब्बत की खुशबू मन से कभी वक्त के साथ अक्सर यादों के गुलदस्ते में महकते हुए हरदिन … Continue reading

Posted in Uncategorized | Leave a comment

आबरु

तुम कोई मोहब्बत के फरिश्ते नहीं, इंसान हो, नबी जितने खुदा से रिश्ते नहीं करना है प्यार तो ताउम्र रूह और दिल से करो, मूझे तो पूरी रकम ही पसंद हैं, किश्तें नहीं वादा वही करता हुँ जिसे अंजाम तक … Continue reading

Posted in Uncategorized | 1 Comment

रूमानियत

Posted in Uncategorized | Leave a comment

प्रवास

Posted in Uncategorized | Leave a comment

अलग – अलग

Posted in Uncategorized | Leave a comment

रियाज़

तेरे रियाज़ में मुझे नियाज नज़र आता है फन नहों पर ईबादत का अंदाज़ नजर आता है © कमलेश रविशंकर रावल

Posted in प्रक्रुति और ईश्वर, हिन्दी, Uncategorized | Leave a comment