Monthly Archives: November 2015

નક્કી નથી ..

Advertisements

Image | Posted on by | Leave a comment

मुलाकात

Image | Posted on by | Leave a comment

दिवाली

Image | Posted on by | Leave a comment

नया साल

दूर क्षितिज में सूरज चमका लाल है खुशियाँ मनाओ शुरु हुआ नया साल है कर लेंगे लक्ष्य हाँसिल,मुश्किल राह में पथदर्शक सारे संसार का महाकाल है फिक्र आनेवाली कल की क्यों करते हो, महेनत और लगन की अपने पास ढाल … Continue reading

Posted in प्रक्रुति और ईश्वर, हिन्दी | Leave a comment