Category Archives: “प्रेम का प्याला”

प्यार है वो चीज़ जो दिलों को जोड़ता है ………पहेचान बताता है अपने आपकी ……शिखाता है जितना अपने आप को चाहते हो दूसरों को भी चाहो .its not a attraction……..its a combination of heart +head +soul = pyar , where only affection will be there….it wont be love but simply desirous 2 get some charm in life…………..! Ishq hai ibadat…vo hi khuda ki jo tum me bhi hai..ped me bhi hai paudhe me bhi hai jal me hai thal me hai…….in short word love cant be described…..पोथी पढ़ी जग मुवा पंडित भया न कोई .ढाई आखर प्रेम का पढ़े सो पंडित होई …..!

एतबार

Advertisements

Posted in "प्रेम का प्याला", हिन्दी | Leave a comment

अल्लड

कुछ तो खास है तेरी अदाओं और अल्फ़ाज में                हो गई है मोहब्बत हमें तेरे ये अल्लड अंदाज़ से ख़ामोश निगाहें ही तेरी दीवाना बना गई है मुझे ना जाने हाल क्या होगा … Continue reading

Posted in "प्रेम का प्याला", हिन्दी | Leave a comment

तेरे जाने के बाद

दिल को पल भी कहाँ करार आया तेरे जाने के बाद                                                        सिर्फ तेरा … Continue reading

Posted in "प्रेम का प्याला", हिन्दी | Leave a comment

सवालात

करता हुँ मोहब्बत कितनी वो बात न पूछ जज़्बात को महसूस कर, ईश्क में सवालात न पूछ इंसान हूँ, शायद किसी को पहचानने में गलती कर भी जाऊँ, इसलिए किसी के बारे में मेरी राय और खयालात न पूछ हिस्से … Continue reading

Posted in "प्रेम का प्याला", हिन्दी | Leave a comment

दूरी

Posted in "प्रेम का प्याला", हिन्दी | Leave a comment

हमसफ़र

Posted in "प्रेम का प्याला", हिन्दी | Leave a comment

શિરસ્તો

Posted in "प्रेम का प्याला", ગુજરાતી | Leave a comment