Category Archives: दोस्ती और जिंदगी …

गाना सूना था कभी- ” दोस्ती का नाम है जिंदगी , दोस्ती का नाम है जिंदगी ” …..शोले देखी थे तब से दोस्ती का एक जज्बा दिल में छा गया बस दोस्तों के लिए हमें तो जीना आ गया, जिंदगी हमें चलाती गयी हम भी साथ निभाते निभाते चलते गए जिंदगी के साथ…रास्ते में जिसने भी मांगा हमारा साथ सभी को थमा दिया हमने अपना हाथ …हम भी बढ़ते गए आगे जिंदगी के ये कारवाँ के साथ…बढ़ रहे हैं आगे…आधी मंजिल काट ली है अपने हिसाब से ..पता नहीं की ऊपर से कब बुलावा आ जाए इसलिए जो भी पल मिलते हैं उसे दिल से जीते हैं , सुख – दुःख , मान -सन्मान से पर हूँ मैं…कमल हूँ मैं हैं वो कमल जिसे संसार के पानी के बीच में कादव – कीचड में ही अपना बसेरा बना डाला है पर उस कमल के पंखुड़ियाँ अभी भी निस्पृहित है …..निष्कलंकित भी …..जिसे संसार के माया से कुछ नहीं चाहिए सिवा प्यार…मोहब्बत …इश्क …इबादत…!!!

प्यास

Advertisements

Posted in दोस्ती और जिंदगी ..., हिन्दी | Leave a comment

लिबास

Posted in दोस्ती और जिंदगी ..., हिन्दी | Leave a comment

गुलजा़र

Posted in दोस्ती और जिंदगी ..., हिन्दी | Leave a comment

कदम

Posted in दोस्ती और जिंदगी ..., हिन्दी | Leave a comment

महाकाल

Image | Posted on by | Leave a comment

इल्ज़ाम

Posted in दोस्ती और जिंदगी ..., हिन्दी, Uncategorized | Leave a comment

दीपावली 

Posted in दोस्ती और जिंदगी ..., हिन्दी | Leave a comment