Category Archives: दोस्ती और जिंदगी …

गाना सूना था कभी- ” दोस्ती का नाम है जिंदगी , दोस्ती का नाम है जिंदगी ” …..शोले देखी थे तब से दोस्ती का एक जज्बा दिल में छा गया बस दोस्तों के लिए हमें तो जीना आ गया, जिंदगी हमें चलाती गयी हम भी साथ निभाते निभाते चलते गए जिंदगी के साथ…रास्ते में जिसने भी मांगा हमारा साथ सभी को थमा दिया हमने अपना हाथ …हम भी बढ़ते गए आगे जिंदगी के ये कारवाँ के साथ…बढ़ रहे हैं आगे…आधी मंजिल काट ली है अपने हिसाब से ..पता नहीं की ऊपर से कब बुलावा आ जाए इसलिए जो भी पल मिलते हैं उसे दिल से जीते हैं , सुख – दुःख , मान -सन्मान से पर हूँ मैं…कमल हूँ मैं हैं वो कमल जिसे संसार के पानी के बीच में कादव – कीचड में ही अपना बसेरा बना डाला है पर उस कमल के पंखुड़ियाँ अभी भी निस्पृहित है …..निष्कलंकित भी …..जिसे संसार के माया से कुछ नहीं चाहिए सिवा प्यार…मोहब्बत …इश्क …इबादत…!!!

प्यास

Advertisements

Posted in दोस्ती और जिंदगी ..., हिन्दी | Leave a comment

केसर

एक गरीब के घर की इज्ज़त बेचारी हो गई जब जवान बेटी की शादी बूढ़े से करने की तैयारी हो गई एसा भी नहीं की कोशिश नहीं की थी उसने गिर के सम्भल ने की कामयाब ही ना हुआ बस … Continue reading

Posted in दोस्ती और जिंदगी ..., हिन्दी | Leave a comment

ન્હોતી ખબર

મારી જ શરતો મારા પર લાદશે ન્હોતી ખબર, બચાવ્યો ‘તો જેને, એ જ વમળ માં ખેંચી લાવશે ન્હોતી ખબર ઘણું મનોમંથન કરી અંતર થી વરસાવ્યો હતો અમીરસ, પણ એમને તો બસ ઈર્ષ્યા ના હળાહળ ઝેર ભાવશે ન્હોતી ખબર બતાવી હથેળીમાં … Continue reading

Posted in दोस्ती और जिंदगी ..., ગુજરાતી | Leave a comment

कोशिश

Posted in दोस्ती और जिंदगी ..., हिन्दी | 1 Comment

मुकद्दर

Posted in दोस्ती और जिंदगी ..., हिन्दी | Leave a comment

दम

Posted in दोस्ती और जिंदगी ..., हिन्दी | Leave a comment

દિવાળી

મન માં થી વહેમ ના જાળાં કાઢો તો થાય દિવાળી દુશ્મન ને નહીં દુશ્મનાવટ ને વાઢો તો થાય દિવાળી ભૂત-પલિત ને મેલો પડતાં, સંબંધો માં એ છે નડતાં કાળી ચૌદશે કાલ ના લક્ષ્ય ને સાધો તો થાય દિવાળી જાતે માણસ … Continue reading

Posted in दोस्ती और जिंदगी ..., ગુજરાતી | 1 Comment